ज़िंदगी में खुशियों की तलाश में इन्सान कहाँ-कहाँ नहीं भागता है खुश रहने के लिए उपाय और तरीके आजमाते रहता है, लेकिन खुशियाँ नहीं मिलती। कहीं कभी थोड़ी मिल भी जाती है तो वो भी जल्दी ही क्षीण हो जाती है।


इसी रोजमर्रा के भागदौड़ में वो बहुत सारी चीजों में फंस जाता है और दुःखी, उदास निराश हो जाता है। मन में चिंता, असंतोष, अशांति और कड़वाहट पाल लेता है। लेकिन खुशियाँ नहीं मिलती। क्या आपके साथ भी यही हो रहा है?

क्या आप तलाश कर रहे है उस एक रौशनी की उस एक पल की जिसे सुख कहते है जिसमे अन्दर से शांति महसूस होती है? अगर आपका जवाब है हाँ तो मैं आपको बताना चाहूँगा की वो ख़ुशी वो शांति कहीं और नहीं बल्कि आपके अन्दर ही है। जी हाँ आपके अन्दर।

अकेले खुश रहना सीखो। जब आप उस ख़ुशी का अहसास करना सीख जायेंगे तब आपको बहार खुशिया तलाशने के लिए भागना नहीं पड़ेगा। हमारे इस प्रोग्राम में हम आपको बताएँगे की आप ये कैसे कर सकते है।

आपको सिर्फ अपने 72 घंटे देने है। और उन 72 घंटो में आप अपने अन्दर से आती शांति और ख़ुशी को महसूस कर पाएंगे।

 

खुशियाँ बाहर से नहीं बल्कि हमारे अन्दर से ही आती है? कैसे?

इस प्रोग्राम से आपको क्या मिलेगा?

  1. खुद पे पहले से बेहतर कण्ट्रोल
  2. शांति और ख़ुशी
  3. कुछ अलग करने का जज्बा
  4. चिंता, निराशा, अशांति, असंतोष, उदासी से मुक्ति
  5. खुद के साथ समय बिताने और खुद को जानने का मौका
  6. किताब पढ़ने के बाद कॉंफिडेंट और मोटिवेशन
  7. शांत और साफ़ मन में साफ़ और नयें विचार
  8. रचनात्मकता में वृद्धि
  9. मुश्किल समय को बीत जाने देने का धैर्य
  10. खुद के बारे में नया नजरियाँ
  11. दुनिया जाये भाड़ में वाला एटीट्युड
  12. लोगो के और दुनिया के फालतू के कचरों से मुक्ति
  13. कुछ अचीव करने की ख़ुशी
  14. घिसी-पिटी दिनचर्या से आराम
  15. अपना हॉबी पूरा करने का समय

ये काम कैसे करता है?

ये काम कैसे करता है?: आपके मन में ये सवाल जरुर आया होगा। ये प्रोग्राम कुछ बहुत ही आसन यूनिवर्सल लॉज़ पर आधारित है, जैसे की समस्या के जड़ को हटा दो तो समस्या ही हट जायेगा। आप ऊपर खुशियाँ वाली लिंक में जाके इसके बारे में अधिक जान सकते है।

आपको क्या करना है?

आपको अपने 72 घंटे अपने आप को देने होंगे? जी हाँ अपने आप को। आपको अपने लाइफ के 72 घंटे सिर्फ खुद को देने है। दुनिया को कुछ समय के लिए होल्ड पे रखना है।

क्या आप तैयार हैं अपने अन्दर से आती ख़ुशी को महसूस करने के लिए?

क्या आपके अन्दर ये ज्वलंत इच्छा है की अपने अन्दर से आती खुशियों को महसूस करे? क्या आप खुद के लिए 72 घंटे निकल सकते है? अगर आपका उत्तर है हाँ तो आगे बढ़े। तो आगे बढ़े और इस प्रोग्राम को खुद आजमा के देखे। ये प्रोग्राम सिर्फ 10 लोगो के लिए फ्री में उपलब्ध है।